User: Password: Login
Home   Work Force      My Tasks   Mobile Reporting  
Infant Reg   Weight Height     Dash-board   Review   Contact Us

 

 

What is Vatsalya Project?

भोपाल जिले को कुपोषण मुक्त करने के उद्‌देश्य से वात्सल्य प्रोजेक्ट लागू किया गया है जिसके तहत वात्सल्य सॉफटवेयर के माध्यम से 0 से 5 वर्ष के बच्चों में कुपोषण का प्रतिशत, अतिकम वजन , कम वजन वाले बच्चों की संख्‍या, ऐसे बच्चे जिनका वजन कम हो रहा है, की जानकारी, पोषण पुर्नवास केन्द्र में भर्ती हेतु चिन्हित बच्चों की सूची आंगनवाड़ी केन्द्र स्तर से लेकर सेक्टर, परियोजना एवं जिला स्तर तक प्राप्त होती है , जिससे कुपोषित बच्चों की निगरानी, अनुश्रवण एवं रणनीति बनाना वात्सल्य प्रोजेक्ट के तहत सरलीकृत हुआ है।

वात्सल्य सॉफ्टवेयर में 0 से 5 वर्ष के बच्चों का वजन, Height/Length For Weight के आधार पर बच्चों की लंबाई, बच्चों का बायीं मध्य भुजा का माप (एम.यू.ए.सी.) एवं ओडिमा की जानकारी दर्ज की जाती है और सॉफ्टवेयर स्वतः ही बच्चों की ग्रेंडिंग विश्‍य स्वास्थ्य संगठन द्वारा निर्धारित ग्राफ के आधार पर करता है अर्थात् बच्चा किस श्रेणी (सामान्य, कम वजन अथवा अति कम वजन) में है। एम.यू.ए.सी. 11.5 से.मी. से कम होने पर या Weight for Height -3SD से कम होने पर बच्चे को अतिकुपोषित (Severe Acute Malnutrition (SAM)) माना जाता है। उक्त जानकारी ऑन लाईन होने से प्रत्येक केन्द्र की कुपोषण के विषय पर समीक्षा कर सकते है। एन.आर.सी. के शतप्रतिशत उपयोग हेतु सॉफ्टवेयर के माध्यम से समीक्षा कर सकते है। भर्ती उपरान्त चारों फालोअप की सुनिश्चितता के लिए बच्चों के अभिभावको, कार्यकर्ताओं एवं पर्यवेक्षको को मैसेज के माध्यम से सूचित किया जाता है जिससे फालोअप शत-प्रतिशत होने की संभावना हुई है।